विशेषण की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

इस पेज पर आप विशेषण की समस्त जानकारी पढ़ने वाले हैं तो पोस्ट को पूरा जरूर पढ़िए।

पिछले पेज पर हमने समानार्थी शब्द की जानकारी शेयर की हैं तो उस पोस्ट को भी पढ़े।

चलिए आज हम विशेषण की समस्त जानकारी पढ़ते और समझते हैं।

विशेषण की परिभाषा

विशेषण का शाब्दिक अर्थ विशेषता बताना होता हैं।

विशेषण एक ऐसा शब्द हैं जो संज्ञा और सर्वनाम की विशेषता बताता हैं तथा ऐसी शब्दों की विशेषता बताने वाले शब्दों को विशेषण कहते हैं।

उदाहरण :- काला, सुन्दर, कायर, इत्यादि।

विशेषण के प्रकार

विशेषण के मुख्य पाँच प्रकार होते हैं।

1. गुणवाचक विशेषण

जिन विशेषण शब्दों से संज्ञा और सर्वनाम शब्दों के गुण, दोष, रूप, आकार, संबंध, स्थान इत्यादि का पता चलता हैं उसे गुणवाचक विशेषण कहते हैं।

गुणवाचक विशेषण के उदाहरण :-

  1. हम अजमेर गए।
  2. सुन्दर लड़की खेल रही हैं।
  3. मोटी लड़की दौड़ रही हैं।
  4. बड़ा सेव गिर रहा हैं।
  5. सोना सो गई।

अजमेर, सुन्दर, मोटी, बड़ा, सोना, जैसे शब्द संज्ञा शब्दों में बता रहे हैं। उसे गुणवाचक विशेषण कहते हैं।

2. परिमाण वाचक विशेषण

जिन विशेषण के द्वारा किसी वस्तु या किसी प्रकार की माप तौल को प्रकट किया जाता हैं। उसे परिमाण वाचक विशेषण कहते हैं।

परिमाण वाचक विशेषण के उदाहरण :-

  1. वह चार बार नहाया हैं।
  2. वह चार बार खाना खाया हैं।
  3. वह एक बार खेला हैं।
  4. वह कल दो बार सोया हैं।
  5. वह दो चोर थे।

3. संख्यावाचक विशेषण

जिन विशेषण शब्दों में संख्या का बोध होता हैं उसे संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

संख्यावाचक विशेषण में संख्या चलती हैं। उसे हम गिन सकते हैं परन्तु उसकी माप-तोल नहीं कर सकते हैं उसे संख्या वाचक विशेषण कहते हैं।

उदाहरण :-

  1. दस बच्चे हैं।
  2. वह सिर्फ पाँच दुकान हैं।
  3. वह कल दो बार आया।
  4. कल सिर्फ पांच केले मिले।
  5. मेरे पास सिर्फ एक आम हैं।

4. सार्वनामिक विशेषण

जो सर्वनाम संज्ञा तथा सर्वनाम की विशेषता की ओर संकेत करते हैं उसे सार्वनामिक विशेषण कहते हैं।

उदाहरण :-

  1. ये मोबाइल हैं।
  2. यह कार हैं।
  3. ये लैपटॉप हैं।
  4. यह फुटबॉल हैं।
  5. यह बैग हैं।

5. व्यक्ति वाचक विशेषण

वे विशेषण जो व्यक्तिवाचक संज्ञाओं से बनकर अन्य संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताते हैं उसे व्यक्ति वाचक विशेषण कहते हैं।

उदाहरण :-

  1. जोधपुरी जूते
  2. बनारस की बनासरसी साड़ी

जरूर पढ़िए :

उम्मीद हैं आपको विशेषण की जानकारी पसंद आयी होगी।

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो दोस्तों के साथ शेयर कीजिए।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.