परिमाणवाचक विशेषण की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

इस पेज पर परिमाणवाचक विशेषण की समस्त जानकारी पढ़ने वाले हैं तो पोस्ट को पूरा जरूर पढ़िए।

पिछले पेज पर हमने रस की जानकारी शेयर की हैं तो उस पोस्ट को भी पढ़िए।

चलिए आज हम परिमाणवाचक विशेषण की समस्त जानकारी पढ़ते और समझते हैं।

परिमाणवाचक विशेषण किसे कहते हैं

ऐसे विशेषण शब्द जो हमें किसी संज्ञा या सर्वनाम के माप-तौल या मात्रा का बोध या जानकारी कराता हैं उसे परिमाणवाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे :-

  • एक किलो आटा
  • चार किलो मेदा, इत्यादि।

परिमाणवाचक विशेषण के प्रकार

परिमाणवाचक विशेषण के मुख्य दो प्रकार होते हैं।

1. निश्चित परिमान्बोधक विशेषण

वे विशेषण शब्द जो हमे किसी वस्तु की निश्चित मात्रा या परिमाण का बोध या जानकारी कराते हैं उसे निश्चित परिमान्बोधक विशेषण कहते हैं।
जैसे :- एक लीटर दूध, दो किलो चीनी,इत्यादि।

उदाहण :-

  • आज की रोटी बनाने में दो किलो आटा लगेगा।
  • आज हमे एक किलो चावल बनाने होंगे।
  • आज एक किलो मेदा लेना हैं।
  • कल पाँच किलो तेल लाये थे।
  • यहाँ सिर्फ एक किलो गेंहू हैं।

2. अनिश्चित परिमान्बोधक विशेषण

वे विशेषण शब्द जो हमे किसी संज्ञा या सर्वनाम की अनिश्चित मात्रा का बोध या जानकारी कराते हैं उसे अनिश्चित परिमान्बोधक विशेषण कहते हैं।
जैसे :- कुछ आम, कुछ सेव, कुछ गेंहू, इत्यादि।
उदाहरण :-
  • ताजमहल देखने बहुत लोग जाते हैं।
  • इंग्लिश बहुत लोग बोल लेते हैं।
  • मोबाइल बहुत से लोगो के पास नहीं हैं।
  • मुंबई में लोग बहुत व्यापार करते हैं।
  • मैच बहुत लोग देखते हैं।

जरूर पढ़िए :

उम्मीद हैं आपको परिमाणवाचक विशेषण की जानकारी पसंद आयी होगी।

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो दोस्तों के साथ शेयर कीजिए।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.