संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा, प्रकार

इस पेज पर आप संख्यावाचक विशेषण की समस्त जानकारी शेयर की हैं।

पिछले पेज पर हमने संधि की जानकारी शेयर की हैं तो उसे भी पढ़े।

चलिए संख्यावाचक विशेषण की समस्त जानकारी पढ़ते और समझते हैं।

संख्यावाचक विशेषण किसे कहते हैं

ऐसे शब्द जो विशेषण के रूप में संज्ञा और सर्वनाम का बोध (जानकारी) करवाते हैं ऐसे शब्दों को संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे :-

  1. उस क्लास में 40 स्टूडेंट हैं।
  2. वह पाँच केला हैं।
  3. ये दो झंडे हैं।
  4. ये दो कंप्यूटर हैं।
  5. यहाँ पास में दो हॉस्पिटल हैं।

संख्यावाचक विशेषण के प्रकार

संख्यावाचक विशेषण के मुख्य दो प्रकार होते हैं जो निम्न हैं।

  1. निश्चित संख्यावाचक विशेषण
  2. अनिश्चित संख्या वाचक विशेषण

1. निश्चित संख्यावाचक विशेषण

ऐसे विशेषण जिससे हमे किसी वस्तु, व्यक्ति या सर्वनाम का निश्चित बोध (जानकारी) कराए। उसे हम निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं।

जैसे :- एक, दो, तीन, चार, पाँच, इत्यादि शब्द।

उदाहरण :-

  1. मेरे तीन दोस्त हैं।
  2. मेरे पास चार कार हैं।
  3. मरे पास दो केला हैं।
  4. मेरे अंकल के पास एक बड़ा घर हैं।
  5. मेरी एक टाई हैं।

निश्चित संख्यावाचक विशेषण के प्रकार

(a). पूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

यह विशेषण शब्द हमे किसी पूर्ण संख्या की जानकारी या बोध करते हैं।

जैसे :- एक दो दस बीस इत्यादि संख्या आती हैं  

(b). अपूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

अपूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण हमे पूर्ण संख्या का बोध नहीं करते हैं।

जैसे :- आधा, डेढ़, ढ़ाई इत्यादि

(c). क्रमवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

क्रमवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण ये हमें संख्या का बोध करता हैं।
जैसे :- पहला, दूसरा, तीसरा, चैथा इत्यादि

(d). आव्रितिवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण

आव्रितिवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण ये विशेषण हमे आवृति का बोध कराता हैं।
जैसे:- दुगना, तिगना इत्यादि।

(e). समूहवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण 

समूहवाचक निश्चित संख्यावाचक विशेषण ये विशेषण हमे समूह या समुदाय का बोध कराता हैं।

जैसे:- तीन, पाँच, इत्यादि

(f). प्रत्येकबोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण 

प्रत्येक बोधक निश्चित संख्यावाचक विशेषण ये विशेषण हमे हर एक संख्या का बोध कराता हैं।

जैसे :- एक-एक, दो-दो, इत्यादि।

2. अनिश्चित संख्या वाचक विशेषण

ऐसे विशेषण जो हमे किसी संज्ञा या सर्वनाम का निश्चित बोध नहीं करा पता हैं या किसी जानकारी का बोध नहीं हो पाता हैं उसे हम अनिश्चित संख्यावाचक कहते हैं।

जैसे :- अनगिनित, हजारो, अनेक, बहुत सरे, इत्यादि।

उदाहरण :-

  1. आज बहुत सारे पक्षी उड़ रहे थे।
  2. जॉब के लिए बहुत साड़ी मेहनत करनी पड़ती हैं
  3. आज बहुत सारा प्रसाद बट रहा हैं।
  4. आज मंदिर में बहुत भीड़ हैं।
  5. कल बाजार बहुत भरा हुआ था।

जरूर पढ़िए :

उम्मीद हैं आपको संख्यावाचक विशेषण यह पोस्ट पसंद आयी होगी।

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो दोस्तों के साथ साथ शेयर कीजिये।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.